Skip navigation.
कृण्वन्तो विश्वमार्यम्

भगवान् मेरी नैया उस पार लगा देना।

भगवान् मेरी नैया उस पार लगा देना।
अब तक तो निभाया है, आगे भी निभा देना।।टेक।।

दल-बल के साथ माया, घेरे जो तुझे आकर।
तुम देखते न रहना, मुझे उससे छुड़ा देना।।1।।
...
सम्भव है, झंझटों में, मैं तुमको भूल जाऊँ।
पर नाथ कहीं तुम भी मुझको न भुला देना।।2।।

तुम इष्ट मैं उपासक तुम देव मैं पुजारी।
यह बात सच है तो फिर करके दिखा देना।।3।।

SENDER:
RAJENDRA ARYA
SANGRUR (PUNJAB)
9041342483