Skip navigation.
कृण्वन्तो विश्वमार्यम्

तुम्ही मेरे रक्षक

तुम्ही मेरे रक्षक तुम्हीं मेरे दाता
हो दुखों के हर्ता सुखों के प्रदाता
तुम्हीं सर्व व्यापक तुम्हीं प्राणदाता
तुम्हीं हो प्रभु सृष्टि के जन्म दाता
तेरे श्रेष्ठ जस्तेज को धार लें हम
तु ही पाप कर्मों से सब को बचाता
मुझे शुद्ध बुद्धि मेरे देव दे दो
रहुं सर्वदा ही मैं तेरे गीत गाता |
ऱाजेन्द्र आर्य
362ए सुनामी गेट, गुरुनानक पूरा,
संगरूर 148001 (पंजाब)
मोबाइल: 9041342483
ईमेल: rajenderarya49@gmail.com