Skip navigation.
कृण्वन्तो विश्वमार्यम्

ऐ वतन के नौजवां जा रहा है तू कहाँ।

ऐ वतन के नौजवां जा रहा है तू कहाँ।
याद कर वो दास्तां जिसको गाता है जहाँ।।

हँसते हँसते जिया करें, ये ही नौजवानी होती है।

हँसते हँसते जिया करें, ये ही नौजवानी होती है।

हँसते हँसते जिया करें, ये ही नौजवानी होती है।

हँसते हँसते जिया करें, ये ही नौजवानी होती है।

हँसते हँसते जिया करें, ये ही नौजवानी होती है।

हँसते हँसते जिया करें, ये ही नौजवानी होती है।

PATANJALI AYURVED TOUCHING SKY WITH GLORY

AUM
PATANJALI AYURVEDA TOUCHING SKY WITH GLORY
By Brigadier Chitranjan Sawant,VSM

स्तुता मया वरदा वेदमाता: डॉ. धर्मवीर जी

उदसौ सूर्यों अगादुदयं मामको भगः।

अहं तद्विद्वला पतिमयसाक्षि विषासहिः।।

Yes, the Vedas sanction death of a cow slaughterer: Dr. Dharmveer

The debate on beef is nothing new. The liberals, intellectuals have been creating an uproar about their right to eat beef on a regular basis.

Syndicate content